देवस्थानम बोर्ड भंग करने को लेकर तीर्थ पुरोहितों का धरना प्रदर्शन 

Jalta Rashtra News

उत्तरकाशी।

देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग को लेकर आंदोलित गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों का धरना प्रदर्शन शनिवार को नवें दिन भी जारी रहा। तीर्थ पुरोहितों ने काली पट्टी बांधकर मां गंगा की पूजा अर्चना की और मां गंगा से सरकार की सद्बुद्धि की कामना की। रविवार को गंगा दहशरा पर्व पर तीर्थ पुरोहित सरकार की बुद्धि-शुद्धि के लिए हवन व यज्ञ करेंगे और यदि इसके बाद भी मांग पूरी नही हुई तो उग्र आंदोलन करेंगे। गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के तीर्थ पुरोहित गत 11 जून से काली पट्टी बांधकर देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ निरंतर विरोध प्रदर्शन करते आ रहे हैं।

शनिवार को नौवें दिन भी गंगोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों ने गंगोत्री धाम में गंगा की पूजा अर्चना कर अपना विरोध प्रदर्शन किया। दूसरी ओर यमुनोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों ने मां यमुना के शीतकालीन प्रवास खरसाली के यमुना मंदिर में बैठकर सरकार के विरुद्ध जमकर प्रदर्शन किया। इस मौके पर तीर्थ पुरोहितों ने कहा कि वे रविवार को देवस्थानम बोर्ड को भंग करने को लेकर दोनो धामों के तीर्थ पुरोहित सरकार के बुद्धि-शुद्धि के लिए हवन यज्ञ करेंगे और यदि सरकार द्वारा देवस्थानम बोर्ड को भंग करने के लिए कोई सकारात्मक कार्यवाही नहीं की गई तो वह उग्र आंदोलन की रणनीति तैयार की जायेगी। इस मौके पर गंगोत्री धाम में पंडित हरीश सेमवाल, राकेश सेमवाल, दीपक सेमवाल, संजय कुमार, मुकेश सेमवाल, प्रकाश सेमवाल, मयंक, सागर, सहसचिव राजेश सेमवाल, रमाकांत और व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष सत्येंद्र सेमवाल सहित यमुनोत्री धाम में यमुनोत्री मंदिर समिति के सह सचिव विपिन उनियाल, चंद्रकांत, अनिरुद्ध, पहलाद, प्रवीन, संजीव, गौतम, सुधीर, कुलदीप आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Next Post

रोक एवं भारी बारिश के बीच भी श्रद्धालु गंगा दशहरे पर हर की पौड़ी क्षेत्र पहुंचे

हरिद्वार। आज गंगा दशहरा का स्नान है आज के दिन गंगा जी स्वर्ग से धरती पर अवतरित हुई थी। आज के दिन गंगा स्नान का बहुत महत्व बताया गया है। इस बार कोविड संक्रमण के चलते पुलिस प्रशासन ने हर की पौड़ी पर गंगा स्नान पर रोक लगाई हुई है। […]

You May Like

Subscribe US Now