धर्म से बड़ी इंसानियत, स्कूल में की फीस में छूट, जानिये

 

शामली।

इस महामारी में हम सभी को साथ मिलकर लड़ना होगा, इसे हराने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति की मदद करने के लिए आगे आना होगा, इस महामारी में हमारी विवशता है, कि हम आपस में मुलाकात नहीं कर सकते लेकिन इस विवशता में यह कहीं भी नहीं है कि, हम एक दूसरे की तरफ मदद का हाथ नहीं बढा सकते। यह ही वों वक्त है जब इंसान की पहचान होती है, धर्म से बड़ी है इंसानियत। जब इंसानियत आगे होकर चलती है उस समाज में उत्पन्न कोई भी परेशानी स्वत ही समाप्त हो जाती है। यह सब बातें सेंट आर. सी. कान्वेंट स्कूल शामली के आडोटोरियम में बुलायी गई सेंट आर. सी. स्कूल की मातृ संस्था श्री रामचंद्र एजुकेशन मिशन गाजियाबाद की प्रबंधकारिणी सभा की विशेष बैठक में स्कूल चेयरमैन अरविंद संगल ने स्कूल फीस में घटोत्तरी करने का प्रस्ताव को रखते हुए कहीं। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के कारण विद्यालय का शैक्षणिक सत्र 2020-21 विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन शिक्षा लेकर आया जिससे विद्यार्थियों को नई तकनीक के साथ जुड़ने का अवसर मिला, लेकिन दुर्भाग्यवश कुछ विद्यार्थी नई तकनीक के साथ नहीं जुड़ पाए जिससे उनका एक वर्ष जीरो वर्ष हो गया लेकिन संक्रमण ने हालात इतने खराब कर दिए हैं कि विद्यालय का शैक्षणिक सत्र 2021-22 भी इसी की भेंट चढ़ता नजर आ रहा है। महसूस होता है कि विद्यार्थियों के लिए विद्यालय जुलाई-अगस्त तक नही खोले जाएंगे। इसलिए सेंट आर.सी. स्कूल की प्रबंध समिति की संचालन समिति श्री रामचंद्र एजुकेशन मिशन से निवेदन है कि पिछले वर्ष अचानक ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था बनाने में काफी खर्च आ गया था अनेकों उपकरण एवं सॉफ्टवेयर की व्यवस्था की गई थी, इसलिए यह प्रस्ताव पास नहीं कर पाए थे लेकिन आज यह संभव है आज व्यवस्था बन गई हैं अतः इस वर्ष जब तक ऑनलाइन क्लास चलेगी तब तक प्ले से आठवीं तक प्रत्येक विद्यार्थी की फीस में 50 प्रतिशत छूट कर दी जांय एवं कक्षा 9 से 11 तक की फीस में 25 प्रतिशत की छूट कर दी जाय। प्रस्ताव का समर्थन करते हुए प्रबंधकारिणी के कोषाध्यक्ष पंकज गर्ग चार्टेडअकाउंटेंट ने कहा कि अभिभावकों को भी लॉकडाउन का सामना करना पड़ रहा है, जिस वजह से उनकी आर्थिक स्थिति पर भी असर दिख रहा है सभी परिवारों में होने वाला दैनिक खर्च किसी भी प्रकार कम नहीं किया जा सकता लेकिन बिना आमदनी, दुकानदारी या तनख्वाह के वह खर्च करना कितना मुश्किल है हम इस बात का अनुमान लगा सकते हैं। बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने प्रस्ताव का समर्थन किया तत्पश्चाचात अभिभावक का आर्थिक सहयोग के उद्देश्य से सेंट आर.सी. कान्वेंट स्कूल की मातृ संस्था श्री रामचंद्र एजुकेशन मिशन प्रबंध समिति ने उक्त प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास किया। मीटिंग में अनिल कुमार सिंह, मोहनलाल, त्रिलोक चंद जिंदल, नफीस अहमद, संजय गोयल, श्रीमती मीनू संगल (सदस्य सचिव) प्रधानाचार्य, रविन्द्रपाल सिंह मलिक, श्री घनश्याम, प्रदीप कुमार, अरविंद कुमार उपस्थित थे।

Leave a Reply

Next Post

आपातकालीन स्थिति में नर्सों का महत्त्वपूर्ण योगदान, सरस्वती

  ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि कोरोना महामारी रूपी वैश्विक स्वास्थ्य संकट के इस दौर में नर्सेस अभूतपूर्व योगदान दे रही हैं। इस संकट के दौर में नर्सेस ने जिस तरह स्वास्थ्य सेवाओं को एक नया आकर दिया वह वास्तव में […]

Subscribe US Now