सांसों के सौदागरों को हाथरस के युवाओं ने दिखाया आईना, जरूरतमंदों की मदद के लिए बना रहे ऑक्सीजन बैंक

कोरोना काल में टूटती सांसों को बचाने के लिए उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के 10 युवा कारोबारियों ने नायाब पहल की है। वे ऐसा ऑक्सीजन बैंक स्थापित करने जा रहे हैं, जहां हर जरूरतमंद की मदद हो सके। इसके लिए औरंगाबाद की एक कंपनी से 100 खाली ऑक्सीजन सिलेंडर मंगाए जा रहे हैं। कंपनी को 13 लाख रुपये का भुगतान किया गया है। यह सिलेंडर दो-तीन दिन में हाथरस आ जाएंगे। जिन्हेंं जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया जाएगा।

हाथरस शहर में पांच कोविड अस्पताल हैं। इनमें तीन प्राइवेट व दो सरकारी हैं। यहां महोबा और हमीरपुर से प्रतिदिन 220 के करीब सिलेंडरों की आपूर्ति हो पा रही है, जबकि खपत दोगुने से ज्यादा है। ऐसे में एक खाली ऑक्सीजन सिलेंडर की कीमत 25 से 30 हजार रुपये तक मांगी जा रही है। इस स्थिति को देख शहर के कुछ युवा उद्यमियों ने ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना पर विचार किया। चीन और दूसरे देशों की कंपनियों से संपर्क किया। इसमें एक महीने से अधिक समय लग रहा था। तत्काल मदद के लिए ऑक्सीजन बैंक की स्थापना की योजना बनाई गई है।

Leave a Reply

Next Post

जीत के बाद ममता बनर्जी ने दिया 'जय बांग्ला' का नारा, बताया क्या है उनकी सरकार की प्राथमिकता

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में बंपर जीत हासिल करने के बाद सीएम ममता बनर्जी की पहली प्रतिक्रिया आई है। ममता बनर्जी ने जीत के लिए सभी को बहुत-बहुत बधाई देते हुए कहा कि मेरी पहली प्राथमिकता कोरोना पर नियंत्रण करने की होगी। यही नहीं एक बार फिर बंगाली अस्मिता […]

You May Like

Subscribe US Now