जिनका नहीं है कंधा देने वाला परिवार, उसका हम करेंगे अंतिम संस्कार’

राजाजीपुरम की पांच सदस्यीय युवा टोली से मिलिए। कोरोना संक्रम‍ित शव के अंतिम संस्कार में संक्रमण के भय से जब बड़ों-बड़ों की हिम्मत जवाब दे जाती है और अपने ही मुंह मोड़ लेते हैं या फिर परिवार में कंधा देने वाले नहीं होते तब इन युवाओं के कंधे काम आते हैं। टोली के अभिषेक गुप्ता, करुण कृष्णा दास, हिमांशु शुक्ला, अनिल मिश्रा, विनीत दीक्षित ने फेसबुक पर पांच नंबर जारी किए है।

सोशल मीडिया पर अपील की जा रही है कि जिस व्यक्ति की कोरोना काल में मौत हुई है और उसे कोई कंधा नहीं देने वाला है तो इस टोली के युवा कंधा देंगे। साथ ही अपने खर्च पर शव का अंतिम संस्कार करेंगे। टोली के अभिषेक गुप्ता व करुण कृष्णा दास ने बताया कि अभी तक वह लोग अपनी जेब से अंतिम संस्कार करते हैं।

इस मुहिम को चलाने के लिए पांच लोगों ने शुरू किया था, लेकिन अब टीम में कई लोग जुड़ रहे है, जिसमें कोई सामग्री तो कोई पैसा की व्यवस्था करने को तैयार है। यदि किसी भी व्यक्ति को टीम की जरूरत हैं तो वह सीधे फोन कर सकता हैं, लेकिन वह सिर्फ राजाजीपुरम व आस पास के इलाके का ही हों, मात्र आधे घंटे या फिर 15 मिनट के अंदर मृतक व्यक्ति के घर पहुंच जाएंगे।

Leave a Reply

Next Post

सांसों के सौदागरों को हाथरस के युवाओं ने दिखाया आईना, जरूरतमंदों की मदद के लिए बना रहे ऑक्सीजन बैंक

कोरोना काल में टूटती सांसों को बचाने के लिए उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के 10 युवा कारोबारियों ने नायाब पहल की है। वे ऐसा ऑक्सीजन बैंक स्थापित करने जा रहे हैं, जहां हर जरूरतमंद की मदद हो सके। इसके लिए औरंगाबाद की एक कंपनी से 100 खाली ऑक्सीजन सिलेंडर […]

Subscribe US Now