आशा ही जीवन है, देखिए आशा के विभिन्न रूप

*🌹आशा ही जीवन है🌹*

 

*जीवन की परिभाषा आशा*

*जीवन का पर्याय है आशा।*

*कदापि न मानव त्याग आशा*

*जीवन का प्रमाण है आशा।*

 

*शैशव काल माता मे आशा*

*बचपन आया पिता मे आशा ।*

*विद्यार्थी जीवन वृद्धि मे आशा*

*सहपाठी मित्रो आदि मे आशा ।*

 

*गुरुओ मे महती हुई है आशा*

*पुस्तक ज्ञान विज्ञान मे आशा ।*

*कक्षा कक्ष के स्थान मे आशा*

*परीक्षा के परिणाम मे आशा।*

 

*प्रमाण पत्र के सम्मान मे आशा*

*परिवार से प्यार की बड़ी आशा।*

*युवावस्था रोजगार के लिए आशा*

*उन्नति के श्रेष्ठ आभास की आशा।*

 

*कार्यालय मे स्वाभिमान की आशा*

*सहकर्मी से बड़े सम्मान की आशा।*

*पद प्रतिष्ठा को उत्थान की आशा*

*ऊॅचा मस्तक मान की है आशा।*

 

*गृहस्थी मे विस्तार की आशा*

*धन दौलत समृद्धि की आशा ।*

*संतति की उन्नति की आशा*

*वृद्धि हो सम्पत्ति की आशा।*

 

*वृद्धावस्था नई पीढ़ी की आशा*

*आयु व्यतीत न व्यतीत आशा ।*

*मृत्यु तक है जीवन की आशा*

*जीवन की आशा बनती आशा।*

 

*कभी न छूटे मानवमन से आशा*

*तन से आशा और मन से आशा।*

*धर्म मे आशा और कर्म मे आशा*

*जीवन के प्रति भ्रम मे है आशा ।*

 

*मृत्यु मे भी स्वर्ग की है आशा*

*स्वर्ग मे भी मुक्ति की है आशा ।*

*नैया को पार लगाएगी आशा*

*नही चाहिए कही भी निराशा ।*

👏🌹👏🌹👏

Leave a Reply

Next Post

ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र में दुकान के विवाद को लेकर आधा दर्जन लोगों पर मुकदमा दर्ज

  हरिद्वार । ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र में दुकान के विवाद के चलते मकान मालिक ने अपने परिवार के साथ दंपत्ति के साथ मारपीट की व दुकान का ताला तोड़कर सामान ले गए पीड़ित ने मारपीट करने वाले एक ही परिवार के चार लोगों समेत आधा दर्जन खिलाफ तहरीर देकर मुकदमा […]

Subscribe US Now