मौनी बाबा के अनशन को संतों का समर्थन

हरिद्वार।

जूना अखाड़े के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामी यतीन्द्रानंद गिरी ने बद्रीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल तथा देवस्थानम बोर्ड के अपर अधिकारी बीडी सिंह पर असत्य जानकारी देने और बद्री केदार मंदिर समिति में करोड़ों के हेरफेर घोटाले की जांच और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

स्वामी यतीन्द्रानंद गिरी महाराज ने बताया कि श्री बद्रीनाथ धाम में रहने वाले मौनी बाबा एवं अन्य संतों को भगवान नारायण के दर्शन करने से वंचित किया गया हैं। मजबूरन संतों को अनशन करने के लिए विवश होना पड़ रहा है। इससे देश भर के संतों में सरकार के खिलाफ भारी नाराजगी है और उन्होंने अनशन को अपना समर्थन देते हुए अनशन पर बैठे संतों को दर्शन का अधिकार देने की मांग की है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत को भी इस संदर्भ में पत्र लिखा गया है, ऐसा नही होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है। स्वामी यतीन्द्रानंद गिरी महाराज ने कहा कि संतों के अनशन का 12 वां दिन है। जिसमें मौनी बाबा ने जल का भी त्याग कर दिया है। इसके पूर्व उन्होंने सरकार से बातचीत कर अनशन को समाप्त कराने का निवेदन भी किया था। जिसमें धर्माधिकारी और अपर कार्याधिकारी ओर से उन्हें आश्वासन भी दिया गया था कि संतो के मंदिर में दर्शन का अधिकार देकर अनशन को समाप्त करा दिया जायेगा। लेकिन ऐसा नहीं हो सका और मौनी बाबा ने जल लेना भी छोड़ दिया। इसको लेकर देश के नामी गिरामी संतों ने अपना विरोध जताया है। मौनी बाबा के अनशन को समर्थन देते हुए संघर्ष करने का ऐलान किया है।

 

महामंडलेश्वर यतीन्द्रानंद गिरी महाराज ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार संतों को भगवान बद्रीनाथ का दर्शन करने के लिए अनशन करना पड़ रहा है। उन्होेंने कहा कि सरकार को तत्काल संतों का अनशन समाप्त कराकर संतों को भगवान के दर्शन का अधिकार दिया जाये। इसके साथ ही सतों के दर्शनों में प्राथमिकता एवं रावल की तरह प्रोटोकाल दिया जाये। आज देश के निम्न प्रमुख संतों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग पर स्वामी यतीन्द्रानंद गिरि जी की वार्ता हुई और सभी ने अपने अपने विचार सहमति प्रदान की।

 

उन्होंने बताया कि आनंद पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी बालकानंद महाराज, महानिर्वाणी पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोखानंद राजगुरु महाराज, सुमेरू पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य नरेंद्रानंद सरस्वती महाराज, संत अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्र नंद सरस्वती महाराज, अखिल भारतीय संत समिति के उपाध्यक्ष कालका पीठ दिल्ली के पीठाधीश्वर सुरेंद्रनाथ अवधूत जी महाराज, महामंडलेश्वर स्वामी हृदयानंद गिरी महाराज जम्मू महामंडलेश्वर साध्वी मैत्री गिरी जी मंगलूर, महामंडलेश्वर हेमा सरस्वती कोटा राजस्थान, महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वर आनंद गिरी जबलपुर, महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश प्राचीन अवधूत मंडल, महामंडलेश्वर स्वामी हरि चेतनानंद हरिपुर हरिद्वार, गरीबदासी स्वामी ऋषि स्वर आनंद, श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के राष्ट्रीय प्रवक्ता दूधेश्वर पीठाधीपति नारायण गिरी महाराज, हठयोगी बाबा बलराम दास महाराज, महामंडलेश्वर नवल गिरी वृंदावन, महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोध आनंद गिरि हरिद्वार, नंगली दरबार के महामंडलेश्वर श्री प्रेमानंद महाराज एवं मातृसदन के पूर्व अध्यक्ष स्वामी शिवानंद ने श्री बद्रीनाथ धाम में चल रहे संतो के अनशन को अपना समर्थन प्रदान किया है।

Leave a Reply

Next Post

उत्तराखंड में 18 वर्ष से ऊपर वालों के लिए 1.19 लाख वैक्सीन पहुंची

देहरादून। उत्तराखंड में 18 वर्ष से ऊपर वालों के लिए वैक्सीन का संकट खत्म हो गया है। गुरुवार को 1.19 लाख वैक्सीन पहुंच गई। वैक्सीन को सभी टीकाकरण केंद्रों के लिए बांट भी दिया गया। लंबे समय से राज्य में 18 प्लस वालों का वैक्सीनेशन अभियान ठप पड़ा था। वैक्सीन […]

You May Like

Subscribe US Now