राजस्थान के खिलाफ हैदराबाद ने की ये बहुत बड़ी भूल, इस वजह से मिली बुरी तरह हार

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन के 6 मैचों में कप्तानी करने के बाद सनराइजर्स हैदराबाद ने डेविड वार्नर को कप्तानी पद से हटा दिया था, क्योंकि टीम एक ही मुकाबला जीतने में सफल रही थी। हैदराबाद ने अपने सातवें लीग मैच से एक दिन पहले केन विलियमसन को टीम का कप्तान बना दिया। हैरानी वाली बात ये रही कि डेविड वार्नर को प्लेइंग इलेवन से ही बाहर कर दिया। इसका नतीजा टीम को पहले ही मैच में भुगतना पड़ गया।

दरअसल, डेविड वार्नर अच्छी लय में नहीं थे, लेकिन ऐसा भी नहीं है कि वे इस आइपीएल में फॉर्म में नहीं थे। उन्होंने दो अर्धशतक भी लगाए, लेकिन जैसे ही केन विलियमसन टीम के कप्तान बने तो उनको प्लेइंग इलेवन से ही बाहर कर दिया। डेविड वार्नर जैसे खिलाड़ी को टी20 मैच में प्लेइंग इलेवन से बाहर करना ही सबसे बड़ी भूल है, क्योंकि वे अकेले दम पर मैच जिताने का माद्दा रखते हैं। इसके अलावा अगर उनके पास कप्तानी की जिम्मेदारी नहीं होती तो वे और घातक साबित होते।

Leave a Reply

Next Post

ममता बनर्जी के लिए विपक्ष का राष्ट्रीय चेहरा बनने की राह नहीं होगी आसान

पश्चिम बंगाल में भाजपा की सबसे शीर्ष पराक्रमी चुनावी जोड़ी को बड़े अंतर से मात देकर ममता बनर्जी बेशक विपक्ष की एक प्रभावशाली और ताकतवर नेता के रूप में उभर कर सामने आई हैं मगर राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी नेतृत्व की कमान थामने की उनकी राह आसान नहीं है। लगातार […]

Subscribe US Now